December 2, 2021

MotherlandPost

Truth Always Wins!

योगी आदित्यनाथ ने किया जेवर एयरपोर्ट का निरीक्षण, होगा 35 हजार करोड़ रुपए का निवेश, पढ़िए पूरा भाषण

योगी आदित्यनाथ आज जेवर पहुंचे है। आगामी 25 नवंबर को पीएम मोदी जेवर में एशिया के सबसे बड़े एयरपोर्ट का शिलान्यास करेंगे। इसको लेकर आज योगी आदित्यनाथ ने योगी आदित्यनाथ ने कहा, जेवर एयरपोर्ट गौतमबुद्ध नगर, अलीगढ़, आगरा और पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश समेत पूरे एनसीआर के लिए बहुत ही अच्छा अवसर आ रहा हैं।

 

 

आगामी 25 नवंबर को पीएम मोदी द्वारा यहां पर भारत और पूरे एशिया के सबसे बड़े एयरपोर्ट का शिलान्यास होने जा रहा है। जेवर एयरपोर्ट 25 साल पुराना सपना है, जिसको आज भारतीय जनता पार्टी पूरा करने जा रही है। लोगों का बहुत पुराना सपना था कि यहां पर एयरपोर्ट आएगा और विकास में 4 चांद लगेंगे लेकिन जमीनी स्तर पर किसी भी सरकार ने इस पर कार्य नहीं किया।”

योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा, “भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार के नेतृत्व में आज यह फैसला लिया गया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने 2017 में सरकार बनने के बाद जेवर एयरपोर्ट का निर्माण कार्य शुरू करवाने का फैसला लिया। हमने फैसला लिया कि हम उत्तर प्रदेश के जेवर में सबसे बड़े एयरपोर्ट का शिलान्यास करेंगे। पहले चरण में करीब 10,000 करोड़ रुपए का निवेश यहां पर आ सकता है। जेवर एयरपोर्ट बनने से नोएडा और ग्रेटर नोएडा समेत पूरे जिले में करीब 34 से 35,000 करोड़ रुपए तक का निवेश जिले में आएगा। जिसमें एक लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। इसके अलावा नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना प्राधिकरण मिलकर इस प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने का कार्य करेंगे।”

सीएम ने आगे कहा, “भारत सरकार का इस प्रोजेक्ट में पूरा सहयोग मिल रहा है। 2024 तक जेवर एयरपोर्ट बनकर तैयार हो जाएगा और उसके बाद यह उत्तर प्रदेश का पांचवा एयरपोर्ट होगा। हमारे पास पहले से ही लखनऊ और वाराणसी में इंटरनेशनल एयरपोर्ट है। अभी कुछ दिनों पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुशीनगर में एक इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शुभारंभ किया है। अयोध्या में उत्तर प्रदेश सरकार एक इंटरनेशनल एयरपोर्ट का निर्माण पहले से ही कर रही है। नोएडा इंटरनेशनल ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट भारत का पहला एक ऐसा एयरपोर्ट होगा, जो किसी भी प्रकार के प्रदूषण से मुक्त होगा। यह एयरपोर्ट भारत का नहीं बल्कि पूरे एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा।”

योगी आदित्यनाथ ने कहा, “व्यापक संभावना को लेकर यह कार्यक्रम आगे बढ़ रहा है। विकास के अलावा रोजगार और युवाओं के लिए तमाम प्रकार की संभावनाओं को लेकर यह एयरपोर्ट आने वाला है। इसी के साथ ही यहां पर फिल्म सिटी का निर्माण कार्य भी शुरू होगा। उत्तर प्रदेश सरकार जेवर एयरपोर्ट के पास फिल्म सिटी का भी निर्माण करेगी। इसके लिए कार्य तेजी से चल रहा है। फिल्म सिटी पर बहुत बड़े स्तर पर निवेश की संभावना बढ़ रही है। जेवर एयरपोर्ट के साथ डिफेंस कॉरिडोर पर भी तेजी के साथ कार्य किया जा रहा है। जेवर एयरपोर्ट के पास मेडिकल डिवाइस पार्क, डाटा सेंटर और टॉय पार्क में अरबों रुपए का निवेश हो रहा है। इसके अलावा इलेक्ट्रॉनिक सिटी भी बनाई जा रही है।”

उन्होंने आगे कहा, “यह उत्तर प्रदेश सरकार और हमारा सौभाग्य है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 नवंबर को क्षेत्र के विकास को आगे बढ़ाने के लिए जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास करने वाले हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश का विकास काफी तेजी के साथ बढ़ रहा है। देश के सबसे बड़े पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी ने किया है। यह हम सभी के लिए सौभाग्य की बात है। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य भी अंतिम चरणों में चल रहा है। अभी हम पश्चिमी उत्तर प्रदेश को पूर्वी उत्तर प्रदेश को जोड़ने के लिए गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य कर रहे है।”

गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे और बलिया लिंक एक्सप्रेसवे पर भी उत्तर प्रदेश सरकार कार्य कर रही है। उत्तर प्रदेश सरकार ने कनेक्टिविटी पर ज्यादा जोर डालते हुए बहुत मजबूत किया है। उत्तर प्रदेश को दूसरे राज्यों से जोड़ा गया है। आप सभी देखते होंगे कि 2017 तक उत्तर प्रदेश में सिर्फ दो एयरपोर्ट थे लेकिन आज पांच एयरपोर्ट पर कार्य चल रहा है।

अगर पूरे भारत में सबसे ज्यादा एयरपोर्ट है तो वह उत्तर प्रदेश में है। उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपनों को पूरा करने का प्रयास किया है। 2017 तक उत्तर प्रदेश में सिर्फ एयरपोर्ट 25 स्थानों से जुड़े हुए थे लेकिन आज के समय में 80 स्थानों को जुड़े हुए हैं। उत्तर प्रदेश सरकार 11 एयरपोर्ट पर कार्य कर रही है। यह वह स्थान है, जहां पर कोई कल्पना भी नहीं कर सकता।

Translate »